Track Chye Fasiya 4 Saal Da Massum 6 KM tak Ghsidiya Fer Jo Hoiyaa Dekho..

ਟਰੱਕ ਚ ਫਸਿਆ 4 ਸਾਲ ਦਾ ਮਾਸੂਮ 6 ਕਿਲੋਮੀਟਰ ਤੱਕ ਘੜੀਸਿਆ ਤੇ ਫਿਰ ਜੋ ਹੋਇਆ ?

Track Chye Fasiya 4 Saal Da Massum 6 KM tak Ghsidiya Fer Jo Hoiyaa Dekho..

ਇੱਕ 4 ਸਾਲ ਦਾ ਮਾਸੂਮ ਟਰੱਕ ਚ ਫਸ ਗਿਆ ਜਿਸ ਕਰਕੇ ਉਸ ਦੀ ਮੌਤ ਹੋ ਗਈ ਪਰ ਟਰੱਕ ਵਾਲਾ ਫੇਰ ਵੀ 6 ਕਿਲੋਮੀਟਰ ਤੱਕ ਘੜੀਸਦਾ ਰਿਹਾ ਇਹ ਦੇਖ ਕੇ ਹਰ ਰਾਹਗੀਰ ਹੈਰਾਨ ਰਹਿ ਗਿਆ।

डिंडौरी। दुर्घटना के बाद चार वर्षीय मासूम का शव ट्रक के पीछे 6 किलोमीटर घिसटता रहा। लापरवाह ट्रक चालक दुर्घटना होने के बाद भी तेज रफ्तार ट्रक चलाने में ही मशगूल था। जिसने भी ट्रक के पीछे घिसटते मासूम के शव को देखा वह दंग रह गया।

विक्रमपुर के पास ग्रामीणों ने दोपहिया वाहन से पीछा कर ट्रक चालक को रोकते हुए पीछे शव लटके होने की जानकारी दी। तब जाकर वाहन चालक को घटना के बारे में जानकारी लगी। ट्रक को ग्रामीण विक्रमपुर चौकी लेकर पहुंचे। कड़ी मशक्कत के बाद एंगल में फंसे मासूम के शव को पुलिस ने बाहर निकाला।

पीछे से हुई जोरदार भिड़ंत

टिकरिया निवासी जयकिशन पट्टा (33) अपनी पत्नी संतोषी बाई (30), चचेरे भाई मनोज पट्टा (24) व चार वर्षीय बेटे प्रिंस को दोपहिया वाहन से विक्रमपुर लेकर आ रहा था। मंगलवार की सुबह साढ़े दस बजे तेज रफ्तार दोपहिया वाहन आनाखेड़ा उदार नदी के पास पीछे से ट्रक से भिड़ गया। सबसे आगे बैठा चार वर्षीय बालक प्रिंस एंगल में ही फंस गया, वहीं बाइक सवार पति पत्नी समेत एक युवक गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गए। । हालत न सुधरने पर तीनों को जबलपुर रेफर किया गया है।

घिसटता रहा बालक का शव

आनाखेड़ा के पास दर्दनाक हादसा होने के बाद ट्रक क्रमांक सीजी 04 एलई 4072 का चालक रामनिवास को दुर्घटना की भनक भी नहीं लगी। वह मस्ती से वाहन चलाता रहा और पीछे मासूम का शव घिसटता रहा। जिसने भी शव को घिसटता देखा वह अपने आंसू नहीं रोक पाया। दुर्घटना में कराह रही मां भी बेटे के शव को ट्रक में फंसे जाते तो देखा, लेकिन दुघर्टना में गंभीर रूप से घायल मां आवाज भी नहीं लगा सकी। पुलिस ने ट्रक चालक को हिरासत में लेकर मामला दर्ज कर लिया है। ट्रक जय दुर्गा रोड लाइंस रायपुर का है। जबलपुर से मिट्टी लेकर ट्रक रायपुर ज रहा था। बालक के शव को परिजनों को सौंप दिया गया है।

दुर्घटना आनाखेड़ा उदार नदी के पास हुई है। पीछे से तेज रफ्तार बाइक की भिड़ंत ट्रक से हो गई। बाइक में चार वर्षीय बालक सबसे आगे बैठा हुआ था। तेज रफ्तार टक्कर लगने से बालक का चेहरा ट्रक के पीछे लगे लोहे के एंगल में फंस गया। वाहन चालक को जानकारी ही नहीं थी। विक्रमपुर बाजार में शव लटकता देख पीछा कर वाहन चालक को यह जानकारी दी। ट्रक को जब्त कर वाहन चालक को हिरासत में ले लिया गया है। मशक्कत के बाद बालक के शव को बाहर निकाला जा सका।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here