9ਵੀਂ ਪਾਸ ਨਾਲ ਹੋਇਅਾ 100 ਕਰੋੜ ਦੀ ਮਾਲਕਣ ਨੂੰ ਪਿਅਾਰ ਪੂਰੀ ਖਬਰ ਦੇਖ ਕੇ ਹੋ ਜਾਵੋਗੇ ਹੈਰਾਨ

JAIPUR : हाईप्रोफाइल शुभांगना सुसाइड केस एक बार फिर चर्चा में है। उसके पति राजकुमार पर शुभांगना को आत्महत्या के लिए उकसाने का केस है।
इस हाईप्रोफाइल मौत के मामले में बताया जा रहा था कि ग्रैजुएट शुभांगना ने 9 वीं पास राजकुमार से दिल्ली जाकर आर्य समाज मंदिर में शादी की थी। शादी से पहले राजकुमार ठेले पर अंडे बेचता था।
उसके बाद राजकुमार ने एमआई रोड पर कैसेट की दुकान खोली। शादी से पहले शुभांगना का नाम रुचिरा सुराणा था। एमआई रोड पर शुभांगना केे पिता का ऑफिस था। शुभांगना को गाने सुनने का बहुत शौक था। इसी दौरान शुभांगना राजकुमार की कैसेट की दुकान पर आने लगी।

9 th Pass Nall Hoya 100 Core Di Malkan Nu Payar......1

राजकुमार और शुभांगना के बीच इस दौरान प्यार हो गया और शुभांगना ने घरवालों के खिलाफ जाकर राजकुमार से शादी कर ली। राजकुमार और शुभांगना के दो बच्चे है। बड़ी बेटी का नाम वृद्धि सावलानी और बेटा मिहिर सावलानी। शादी के बाद शुभांगना ने जसोदा देवी कॉलेजेज एंड इंस्टीट्यूशन्स की शुरुआत की और इसकी चेयरपर्सन भी बनी।
इसे भी पढ़ें : मैं और मेरा परिवार शिवभक्त हैं, लेकिन हम धर्म को लेकर ‘दलाली’ नहीं करते : राहुल गांधी
राजकुमार की हरकतों से आहत होकर शुभांगना ने मई माह में अपने एडवोकेट के पास ई-मेल और वॉट्सऐप मैसेज भेजे थे। मैसेज में शुभांगना ने लिखा था कि उसकी मुलाकात राजकुमार से 16 साल की उम्र में हुई थी तभी उसके संबंध बन गए थे।

राजकुमार ने शादी से पहले 3 बार और शादी के बाद 3 बार गर्भपात करवाया था। शुभांगना ने मेल पर जिक्र किया था कि राजकुमार ने शुभांगना की मर्जी के खिलाफ 6 बार गर्भपात करवाया था। शुभांगना ने वकील को जो लिखित में दिया है, उसके अनुसार बनीपार्क इलाके में पास-पास रहने के कारण 1996 में राजकुमार से जान-पहचान हुई थी। अगले साल शादी कर ली थी।
इसे भी पढ़ें : अभी-अभी : यूपी निकाय चुनाव की मतगणना शुरू, योगी की अग्निपरीक्षा शुरू

दो बच्चे होने के बाद पिछले कुछ सालों से आपस में अनबन होने लगी। राजकुमार शराब पीने का आदी था। उसकी मारपीट से परेशान होकर जब उसने राजकुमार के खिलाफ महिला थाने में शिकायत की तो काउंसलिंग के दौरान राजीनामा कर लिया। उसके बाद ज्यादातर अलग-अलग रहने लगे।

गौरतलब है कि शुभांगना 26 अगस्त को सी स्कीम स्थित बंगले पर लटकी मिली थी। पिता प्रेम सुराणा फंदे से उतार कर अस्पताल लेकर गए थे। घटना के बाद से ही राजकुमार फरार था। जिसे करीब 25 दिन पहले अजमेर रोड स्थित एक होटल से गिरफ्तार किया गया था। बता दें कि शुभांगना की मौत के चार दिन बाद उसके पति राजकुमार ने एक सेल्फी वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाला था। जिसमें उसने खुद को बेगुनाह बताया था।

LEAVE A REPLY