ਹਰ ਰੋਜ ਧੀ ਨਾਲ ਕਬਰ ਚ ਸੌਂਦਾ ਹੈ ਇਹ ਪਿਤਾ ਵਜਹ ਜਾਣ ਕੇ ਆ ਜਾਣਗੇ ਅੱਖਾਂ ਚ ਹੰਝੂ

Har Rooj Apni Bachi Naal Kabar Chye Sonda Hai Ehaa Pitaa...... Dekho Kyoo

नई दिल्ली – इस संसार में एक बाप और एक बेटी के रिश्ते को सबसे पवित्र रिश्ता माना गया है। एक पिता अपनी लड़की की खुशी के लिए जो कर सकता है वो दुनिया को कोई भी दूसरा इंसान नही कर सकता। ऐसा ही मामला इन दिनों सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है। यह वाकया कुछ ऐसा है जिसे पढ़कर आपकी आँखो में आँसू आ जाएंगे। यह वाकया है एक बाप का अपनी बेटी के साथ हर रोज कब्र में सोने का। चौंक गये नलेकिन यह बात पूरी तरह से सच है। लेकिन, इसकी वजह आपको रोने पर मजबुर कर देगी

लोगों के होश उड़ा के रख देने वाला यह वाकया चीन के सिचुआन प्रोविंस के झांग झिंनलेई गांव का है। इस दिल दहला देने वाली खबर के संबंध में कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया पर कुछ तस्वीरे सामने आई थीं, जिन्हें देखकर हर कोई हैरान रह गया। दरअसल, इस बेचारे पिता को अपनी बेटी की मौत का गम बेटी के जिन्दा रहते हुए भी सता रहा है। इस बेचारे पिता की मजबुरी ये है कि वह लाख प्रयासों के बावजूद अपनी अपनी बेटी को बचा नही सकता। इसलिए उसने पहले ही उसकी कब्र खोद ली है और हर रोज वह उसके साथ कब्र में सोकर अपने गम को कम करने का प्रयास कर रहा है।

यह बेचारा पिता अपनी बेटी के साथ कब्र में खेलता है और उसको कब्र में ही सुलाने का प्रयास करता है। इसके पीछे वजह ये है कि वह अपनी बेटी की मौत के गम को पहले ही झेलकर थोड़ा कम करना चाहता है। चीन की एक वेबसाइट ने इस संबधं में एक लिखी खबर है, जिसके मुताबिक इस शख्स का नाम झांग लियांग है जो पेशे से एक किसान है। झांग लियांग की एक दो साल बेटी है जिसका नाम जिनलेई है। खबरे के मुताबिक, झांग लियांग की बेटी के ब्लड डिसऑर्डर (थैलेसीमिया) नामक एक जानलेवा बीमारी है। आपको बता दें कि यह एक लाइलाज बिमारी है, जिसकी वजह से उसकी बच्ची की मौत तय है।

जिनलेई का इलाज कराने वाले डॉक्टर के मुताबिक, झांग लियांग की बेटी की रक्त कोशिकाए ठीक से काम नहीं कर रही हैं। डॉक्टर के मुताबिक, ऐसी स्थिती में उसकी बेटी ज्यादा से ज्यादा एक साल तक ही जीवित रह पायेगी। यह वजह है कि झांग लियांग अपनी बेटी की मौत के गम में एक कब्र खोदकर उसके साथ अपने गम को दूर करने के लिए उस कब्र में सोता है। वह रोज अपनी बेटी के साथ कब्र में खेलता और अपने गम को कम करने की की कोशिश करता है।

LEAVE A REPLY